Neha Kakkar Crying gets Emotional in Memories of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्यूज़

जयपुर।

जोधपुर के दुगर गांव में माहौल उस वक्त तनावपूर्ण हो गया जब एक दलित कांस्टेबल की बारात पर गांव के ही सवर्ण जाति के लोगों ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया। मामला बिगड़ता देख मौके पर पुलिस पहुंची और पहरे में शादी व विदाई करवाई गई।

ये है मामला

दरअसल, लोरड़ी देजगरा के रहने वाले सवाईराम की शादी नेताराम मेघवाल की बेटी के साथ होनी थी। 9 फरवरी को देर शाम जैसे ही बारात दुगर गांव में पहुंची तो बाराती ढोल और डीजे बजाकर नाचने गाने लगे। तभी कुछ सवर्ण जाति के लोग आए और जातिसूचक शब्दों से उन्हें अपमानित करने लगे और धारदार हथियारों से हमला कर दिया। पुलिस को दी गई शिकायत में सवाईराम ने कहा कि सवर्ण जाति के लोग जातिसूचक शब्दों के साथ गालियां दे रहे थे। जब उन्हें ऐसा करने से मना किया तो उन्होंने धारदार हथियार से हमला कर दिया। उन्होंने बारात रुकवा दी और गाड़ी चला रहे ओमप्रकाश के साथ मारपीट की। इस बीच कुछ लोगों ने पथराव कर दिया जिसमें बाराती भवानीसिंह, श्रवणराम, सागरराम, अर्जुन के साथ भी मारपीट की। कई बारातियों के चोटें आई और गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए गए।

7 लोगों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने रात में घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रण में लिया। फिर पहरे में शादी व विदाई करवाई गई। हमला करने के आरोप में पुलिस ने सात लोगों को गिरफ्तार किया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement