• वो अपनी इज्जत बचाने के लिए चुनाव लड़ रहे हैं और हम यूपी का भाग्य बदलने को- पीएम मोदी
  • मंच से रोते हुए उतरे गायत्री प्रजापति, बोले - अखिलेश्‍ा के साथ मंच पर नहीं रहूूंगा
  • मोदी ने भी खेल दिया ट्रंप
  • सपा के हाथों पहली जंग हार गई बसपा
  • आइपीएल 10 के ऑक्शन में मोर्गन-नेगी बिके, गुप्टिल को फिर नहीं मिला खरीददार
  • प्रधानमंत्री के कथित सांप्रदायिक बयान की श‍िकायत चुनाव आयोग में करेगा कांग्रेस

Share On

UP | 9-Jan-2017 11:20:40 AM
चुनावी होगा मायावती का जन्मदिन

  • मुस्लिम को लुभाने की विशेष रणनीति का करेंगी ऐलान


 

 

दि राइजिंग न्‍यूज

09 जनवरी, लखनऊ।

इसी हफ्ते 15 जनवरी को होने वाला बसपा प्रमुख मायावती का जन्मदिन पूरी तरह चुनावी होगा। विधानसभा चुनाव की डुगडुगी बजने के बाद होने वाले 63वें जन्मदिन पर राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश के सभी जिलों में पचास हजार से ज्यादा छोटे-बड़े आयोजन होंगे। पार्टी सुप्रीमों मायावती की मौजूदगी में मुख्य आयोजन राजधानी लखनऊ में होगा।

खास बात यह है कि अपने जन्मदिन पर मायावती इस पर पार्टी कार्यकर्ताओं से किसी भी तरह का गिफ्ट नहीं लेगी। समझा जा रहा है कि चुनाव आचार संहिता के चलते बसपा प्रमुख ने पार्टीजनों को यह हिदायत दी है। गिफ्ट की रूप में कार्यकर्ताओं तथा प्रदेश की जनता से वह चुनाव में पार्टी की जीत मांगेगी।

आमतौर पर पार्टी का खर्च चलाने के लिए मायावती इस तरह के आयोजनों में ‍खुलकर गिफ्ट लेती रही है। नगदी के रूप में लिए जाने वाले इस गिफ्ट को मायावती अनेक मौको पर स्वीकार भी चुकी है।

उनका कहना है कि कार्यकर्ताओं से ली जाने वाली इसी धनराशि से संगठन का खर्च चलता है। इसके पीछे मायावती का तर्क है कि बसपा पूंजीपतियों की पार्टी नहीं है और न ही इनसे किसी की तरह की मदद लेती है।

बहरहाल बिना गिफ्ट के मनाए जाने वाले पार्टी सुप्रीमों मायावती के इस बर्थ-डे पर प्रत्येक विधानसभा में 10-10 छोटे-बड़े आयोजन होगे जबकि जिलें में अलग से एक बड़ा आयोजन होना है।

इसके अलावा राजधानी लखनऊ में होने वाले मुख्य आयोजन में मायावती बड़ी संख्या में मुस्लिम नेताओं की पार्टी में ज्वाइनिंग करा के इस वर्ग को अपनी नई सोशल इंजीनियरिंग का संदेश देगी। सर्वसमाज का नारा देनी वाली मायावती अपने बर्थ-डे पर जिसकी जितनी भागेदारी उसकी उतनी हिस्सेदारी के नारे को बुलंद करके आगे करेगी।

सूत्रों का कहना है कि चुनाव में मुसलमानों को सबसे ज्यादा टिकट देने के बाद मायावती मुसलमानों से समर्थन की अपील करके इस बात का संदेश देगी कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आयी तो जीतकर आने वालों मे अन्य वर्गो के अलावा मुसलमानों की सरकार में उचित हिस्सेदारी मिलेगी।

राजनीतिक भाषणों के अलावा जन्मदिन पर मायावती ब्लू बुक को जारी करेगी जो दलित मूवमेंट पर उनके सालभर के कामकाज का लेखाजोखा होगा।

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 

 

 

 

 



 

 

Newsletter

Click Sign Up for subscribing Our Newsletter

 


   Photo Gallery   (Show All)
बली प्रेक्षाग्रह में कथक संध्‍या कार्यक्रम में चतुरंग की प्रस्‍तुित देती कलाकार । फोटो - गौरव बाजपेई
बली प्रेक्षाग्रह में कथक संध्‍या कार्यक्रम में चतुरंग की प्रस्‍तुित देती कलाकार । फोटो - गौरव बाजपेई

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें