प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के दौरान मायावती
प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के दौरान मायावती

द राइजिंग न्यूज़ , लखनऊ : यूपी चुनाव से पहले ब्राह्मण वर्ग को साधने के लिए बीएसपी मायावती ने पार्टी के प्रबुद्ध सम्मेलन को संबोधित किया। मायावती ने इस दौरान सत्ताधारी दल बीजेपी पर निशाना साधते हुए ब्राह्मण वर्ग को बीएसपी के साथ आने का आह्वान किया। मायावती ने दावा किया कि प्रबुद्ध वर्ग की मदद से पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी। मायावती ने कहा कि सरकार बनने पर 2007 की तरह ही ब्राह्मण समाज की सुरक्षा, सम्मान और तरक्की का ध्यान रखा जाएगा।

प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के पहले चरण के समापन में मायावती के संबोधन से पहले जय श्री राम और जय परशुराम के नारे लगाए गए। इसके साथ-साथ पार्टी का पुराना नारा, 'हाथी नहीं गणेश है, ब्रह्मा, विष्णु,महेश है', भी लगाया गया। मायावती ने कहा, 'बीएसपी ने ब्राह्मण समाज का हमेशा कल्याण किया है। उन्होंने कहा कि प्रबुद्ध किसी के बहकावे में न आए।'

  अब मैं सिर्फ यूपी के विकास पर फोकस करूंगी न कि बिल्डिंग पार्क और स्मारक पर।
                                मायावती, प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के दौरान

भाषण के दौरान 2007 का कई बार किया जिक्र
संबोधन के दौरान मायावती ने 2007 के दलित-ब्राह्मण सोशल इंजीनियरिंग के दांव का भी बार-बार जिक्र किया। मायावती ने कहा, 'हमने अपने पार्टी संगठन, चुनाव में टिकट देने पर और सरकार बनने पर मंत्री वगैरह बनाने के मामले में ब्राह्मण वर्ग को उचित प्रतिनिधित्व दिया है। इन सब बातों का अहसास कराने और इन्हें फिर से पार्टी से जोड़ने के लिए मेरे निर्देश पर 23 जुलाई से प्रबुद्ध वर्गों की विचार संगोष्ठी का अयोध्या में आयोजन शुरू हुआ था। पहला चरण काफी सफल रहा है जिसका मेरे द्वारा आज समापन भी किया जा रहा है।'

'दलित वर्ग के लोगों पर शुरू से ही गर्व रहा'
अपने कोर वोटबैंक का जिक्र करते हुए मायावती ने कहा, 'दलित वर्ग के लोगों पर शुरू से ही गर्व रहा है। बिना गुमराह हुए और बहकावे में आकर कठिन से कठिन दौर में भी उन्होंने पार्टी का साथ नहीं छोड़ा है। मैं उम्मीद करती हूं बीएसपी से जुड़े अन्य वर्गों के लोग भी इनकी तरह गुमराह नहीं होंगे। पिछले कुछ वर्षों में जहां यहां सपा की सरकार रही हो या वर्तमान में बीजेपी की सरकार चल रही हो लेकिन इन सभी सरकारों की जातिगत की संकीर्ण और पूंजीवादी सोच होने के कारण मजदूरों, किसानों, व्यापारियों व दलित-अन्य पिछड़ा वर्ग के साथ ब्राह्मण समाज का भी शोषण हुआ है।'

'बीएसपी का शासनकाल में हर मामले में कई गुना बेहतर'
बीजेपी पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा, 'अब ब्राह्मण समाज के लोग भी प्रदेश में हर जगह खुलकर कहने लगे हैं कि सभी पार्टियों की तुलना में बीएसपी का शासनकाल हर मामले में कई गुना बेहतर रहा है लेकिन हमने बीजेपी के प्रलोभन में आकर इनकी पूर्ण बहुमत सरकार बनाकर बहुत बड़ी गलती की है। बीएसपी की पूर्व सरकार ने ब्राह्मण समाज के लोगों की तरक्की, सुरक्षा और सम्मान के नाम पर कई ऐतिहासिक कार्य किए हैं।'

प्रबुद्ध वर्ग के मंच पर मायावती
-मायावती ने कहा, मैं 2 फरवरी 2021 से लगातार लखनऊ में हूं। कोरोना काल में जानबूझकर लखनऊ से नहीं निकली, क्योंकि ऐसा करने पर कार्यकर्ताओं पर कोरोना नियमों के उल्लंघन के मुकदमे दर्ज होते। फिर चुनाव की तैयारी की जगह कार्यकर्ता मुकदमेबाजी में फंसे रहे।

-बीजेपी ने किसानों का वोट लेने के लिए वादा किया था कि आमदनी दो गुना बढ़ा दी जाएगी वह तो नहीं किया, बल्कि उनके ऊपर तीन काले कानून लादकर उनकी जमीन से उन्हें वंचित करने का काम किया है। बीएसपी किसानों के आंदोलन के साथ खड़ी है। करनाल में किसानों पर लाठियां बरसाईं जिससे एक की मौत हो गई। बीएसपी की सरकार बनने पर तीन कृषि कानून यहां कतई लागू नहीं होने दिया जाएगा।

-पूरे प्रदेश में पहले हर विधानसभा क्षेत्र में 1 हजार ब्राह्मण कार्यकर्ता तैयार करना है और इसके लिए हमारे कार्यकर्ताओं को जुटना होगा। शहरों में प्रबुद्ध वर्ग की महिलाओं को भी सम्मेलन से जोड़ा जाएगा जिसकी पूरी जिम्मेदारी सतीश मिश्र की पत्नी कल्पना मिश्रा की टीम को दी जाती है।


-अब मैं सिर्फ यूपी के विकास पर फोकस करूंगी न कि बिल्डिंग पार्क और स्मारक पर।

-आरएसएस पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा, 'मैं पूछना चाहती हूं कि अगर भारत में हिंदू- मुस्लिम के पूर्वज एक ही हैं तो आरएसएस और उनकी बीजेपी मुस्लिमों के साथ सौतेला व्यवहार क्यों करती है।'

-हमने बेहतर कानून-व्यवस्था दी है। वर्तमान सरकार और सपा सरकार के वक्त महिलाएं दिन ढलते घर से नहीं निकलती थीं, आज भी नहीं निकल पाती। एक टीवी न्यूज चैनल पर देखा वहां बीजेपी वाले एक भाभी को लेकर घूम रहे थे जो महिलाओं के बीच जाकर पूछ रही थीं कि वर्तमान सरकार ने उनके लिए क्या किया, वो प्रायोजित तरीके से महिलाएं चयनित कर लेती हैं और सरकार के पक्ष में हवा बनातीं। चुनाव आने तक और न कितनी भाभियों को जोड़ेंगे लेकिन अब महिलाएं इनके बहकावे में आने वाली नहीं हैं।

Latest News

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

हमारे टेलीग्राम चैनल को तुरंत सब्सक्राइब  Subscribe